64 BPSC | PREVIOUS YEAR PAPERS | MAINS |GENERAL STUDIES 2

SECTION 1

  1. “The Indian Constitution postulates in its Preamble that India shall be a socialist, secular, democratic republic.” What are the constitutional provisions to enforce this declaration?

“भारतीय संविधान अपनी प्रस्तावना में भारत को एक समाजवादी, धर्मनिरपेक्ष, लोकतांत्रिक गणराज्य घोषित करता है।” इस घोषणा को क्रियान्वित करने के लिए कौन-से संवैधानिक उपबंध दिए गए हैं? 

  1. Critically examine the role of Governor in the State politics in India, particularly in Bihar. Is he a mere puppet?

भारत में राज्य की राजनीति में राज्यपाल की भूमिका का आलोचनात्मक परीक्षण कीजिए, विशेष रूप से बिहार के संदर्भ में। क्या वह केवल एक कठपुतली है?

  1. “Judicial activism is a recent phenomenon in the Indian governance.” Comment and bring out the main arguments in favour and against of judicial ac

“भारतीय शासन में न्यायिक सक्रियता एक नवीन धारणा है।” विवेचना कीजिए तथा न्यायिक सक्रियता के पक्ष और विपक्ष में दिए गए मुख्य तर्कों को स्पष्ट कीजिए।

  1. “Too many political parties are the bane of Indian politics.” Explain this fact in the context of Bihar.

“बहुत अधिक राजनैतिक दल भारतीय राजनीति के लिए अभिशाप हैं।” इस तथ्य को बिहार के परिप्रेक्ष्य में स्पष्ट कीजिए।

SECTION 2

  1. Critically examine the need of ‘food security’ in India.

भारत में ‘खाद्य सुरक्षा’ की आवश्यकता का आलोचनात्मक परीक्षण कीजिए।

  1. Explain the role of WTO in the context of Indian economy.

भारतीय अर्थव्यवस्था के परिप्रेक्ष्य में विश्व व्यापार संगठन की भूमिका की व्याख्या कीजिए।

  1. Evaluate the principal achievements of Indian economic planning.

भारतीय आर्थिक नियोजन की मुख्य उपलब्धियों का मूल्यांकन कीजिए।

  1. “Unless the growth of population is checked in India, the economic development cannot be judged in its true perspective.” Examine the statement.

“जब तक भारत में जनसंख्या वृद्धि अवरुद्ध नहीं की जाती, तब तक आर्थिक विकास को उसके सही रूप में नहीं देखा जा सकता।” इस कथन का परीक्षण कीजिए।

SECTION III

  1. Despite the fact that India has got a very good network of rivers, there are several regions that suffer from water shortage and particularly potable water. Discuss the role of science and technology in water management to address this problem citing examples.

भारत में नदियों का सुदृढ़ जाल होने के बाद भी कई ऐसे क्षेत्र हैं, जो जलापूर्ति और विशेष रूप से पेयजल की कमी से जूझ रहे हैं। इस समस्या के समाधान हेतु जल प्रबंधन में विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी की भूमिका की सोदाहरण विवेचना कीजिए।

  1. With ever-rising electricity demand and depleting conventional energy resources, country is facing acute power shortage at present. Describe in detail the means provided by present-day science and technology to overcome the grueling energy de

विद्युत् खपत की बढ़ती माँग एवं लगातार घटते पारम्परिक ऊर्जा स्रोतों के कारण देश वर्तमान में विद्युत् ऊर्जा की कमी से जूझ रहा है। इस विकट ऊर्जा खपत माँग को नियंत्रित करने के लिए वर्तमान में विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी द्वारा प्रदत्त माध्यमों का विस्तार से वर्णन कीजिए।  

  1. Present-day government is trying to develop smart cities in different States. What are your visions about smart cities? Elucidate the role of science and technology in the development of ideal smart cities.

वर्तमान सरकार विभिन्न राज्यों में स्मार्ट शहर विकसित करने के लिए प्रयासरत है। स्मार्ट शहरों के बारे में आपकी क्या परिकल्पनाएँ हैं? आदर्श स्मार्ट शहर के विकास में विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी की भूमिका की व्याख्या कीजिए।

  1. Manifold increase of population and non-planning has led to disproportionate garbage generation. Discuss the different types of wastes. How can the country eradicate this problem with the help of science and technology? Describe in detail.

जनसंख्या में बहुमुखी वृद्धि एवं अ-योजना के फलस्वरूप असंगत कचरा उत्पन्न हुआ है। विभिन्न प्रकार के कचरे की विवेचना कीजिए। इस समस्या को देश किस प्रकार विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी की सहायता से दूर कर सकता है? विस्तार से इसका वर्णन कीजिए।