Mains Answer Writing 07 March 2019

GS PAPER IV

Ethics 

“सभी चीजों के साथ धैर्य रखें, लेकिन मुख्य रूप से खुद के साथ धैर्य रखें, कभी भी जल्दी में न रहें; सब कुछ चुपचाप और शांत भाव से करें। किसी भी चीज़ के लिए अपनी आंतरिक शांति को मत खोना, भले ही आपकी पूरी दुनिया परेशान हो। ”–फ्रांसिस।

वर्तमान संदर्भ में उपरोक्त उद्धरण से सिविल सेवक के लिए क्या महत्त्व है 

“Have patience with all things, but chiefly have patience with yourself, Never be in a hurry; do everything quietly and in a calm spirit. Do not lose your inner peace for anything whatsoever, even if your whole world seems upset.” –Francis.

What do you mean  by above quotation for the civil servant.