HISTORY OPTIONAL ANSWER WRITING PROGRAMME 25 July 2020

1.On the basis of contemporary sources asses the nature of banking and usuary in ancient india

 समकालीन स्त्रोतों के आधार पर प्राचीन भारत मे बैंक व्यवस्था तथा सूद प्रथा (कुसीद प्रथा ) की समीक्षा कीजिये

 

2.Trace the role of guilds and trade organizations in the development of early indian economy

प्राचीन भारतीय अर्थव्यवस्था के विकास मे श्रेणियों (गिल्ड्स ) एवम व्यापारिक संगठनों की भूमिका की रुपरेखा प्रस्तुत कीजिये