UPPSC | PREVIOUS YEAR PAPERS

UPPSC 2021| General Studies 4| Mains Paper

UPPCS Mains 2021 GS Paper 4 was conducted on 25 March 2022 in second shift i.e. from 2:00 PM to 5:00 PM. The total marks alloted for Mains GS paper 4 is 200. The questions were related to important terms of ethics like morality, probity, ethical governance, attitude, and empathy, and questions based on public administration, corruption. Also there were case studies. Here are the questions asked in UPPCS Mains 2021 GS paper 4:

General Studies (Paper-IV)

Special Instructions:

  1. There are 20 questions. Section-A consists of 10 short answer questions with word limit of 125 each and Section-B consists of 10 long answer questions with word limit of 200 each. The questions are printed in Hindi and in English. 
  2. All questions are compulsory.
  3. Keep the word limit indicated in the questions in mind. 
  4. Any page or portion of the page left blank in the answer booklet must be clearly struck off. 

खंड /Section- A

  1. क्या वैयक्तिक नैतिकता का प्रभाव लोक-जीवन के निर्णयों पर पड़ता है?

Does individual morality have a bearing effect on the decision of public life? (8)

  1. महात्मा गांधी के मत के अनुसार कौन से आवश्यक सदगुण हैंजो एक आदर्श मानवीय नैतिक व्यवहार हेतु उत्तरदायी होते हैं? विवेचना कीजिए।

What are the essential virtues which are responsible for an ideal human ethical behaviour according to Mahatma Gandhi? Discuss. (8)

  1. “भ्रष्टाचार सरकारी राजकोष का दुरुपयोग, प्रशासन की  अक्षमता एवं राष्ट्रीय विकास में बाधा उत्पन्न करने का कारण है।” कथन के परिप्रेक्ष्य में सार्वजनिक जीवन में भ्रष्टाचार रोकने के उपाय बताइए।

“Corruption causes misuse of government treasury, administrative inefficiency and obstruction in national development.” Give suggestions for prevention of corruption in public life in the context of the statement given. (8)

  1. लोक सेवा के संदर्भ में निम्नलिखित की प्रासंगिकता का निरूपण कीजिए:

(a) नैतिक शासन

(b) लोक जीवन में सत्यनिष्ठा। 

Describe the relevance of the following in the context of civil services: (8)

(a) Ethical Governance

(b) Probity in public life.

  1. दुग्ध व्यवसायियों के संगठन द्वारा एक शांतिपूर्ण धरना दिया  जा रहा था। पुलिस अधीक्षक पुलिस कर्मियों को निर्देशित करते हैं की संगठन को किसी प्रकार की हिंसा ना करने दें। पुन: वे कहते हैं की यदि आवश्यकता हो, तो उन्हें ‘उन्हें पाठ पढ़ा’ दें। एक तैनात पुलिस कर्मी धरना देने वाले एक व्यक्ति से बेहेस करता है और उसकी पिटाई कर देता है। कारण पूछे जाने पर वह कहता है कि उसे पुलिस अधीक्षक ने पाठ पढ़ाने के लिए कहा था। उपर्युक्त प्रकरण के परिप्रेक्ष्य में पुलिस अधीक्षक और पुलिस कर्मी के नैतिक आचरण पर अपनी टिप्पणी लिखिए।

A peaceful protest was being carried out by a group of milk traders. The Superintendent of Police instructs the Police Officials to prevent the group from committing any type of violence. He, however tells them to ‘teach them a lesson’, if situation warrants. A police official on duty indulges into an argument with a protestor and beats him up. When inquired about his action, he says that he was told to teach them a lesson by the Superintendent of Police. Give your comment on ethical behaviour of both the Superintendent of Police and the Police official in the light of above mentioned incident. (8)

  1. मनोवृत्ति को परिभाषित कीजिए तथा मनोवृत्ति एवं अभिक्षमता के ऐतिहासिक परिप्रेक्ष्य संबंधों की विवेचना कीजिए।

Define attitude in historical perspective and discuss the relationship between aptitude and attitude. (8)

  1. सहानुभूति को परिभाषित कीजिए तथा कमजोर वर्ग की समस्याओं के समाधान में सहानुभूति की भूमिका की विवेचना कीजिए।

Define empathy and discuss the role of empathy in solving problems of weaker section. (8)

  1. “संवेगात्मक बुद्धि प्रभावशाली कार्यप्रणालियों में बहुत आवश्यक है”। इस कथन पर प्रकाश डालिए।

“Emotional Intelligence is very important in effective administrative practices”. Throw light on the statement. (8)

  1. सिविल सेवकों के अंदर सहनशीलता तथा करुणा को कैसे पोषित किया जा सकता है? अपना सुझाव दीजिये।

How can tolerance and compassion be fostered among civil servants? Give your opinion. (8)

  1. विभेद कीजिए:

(i) वस्तुनिष्ठता औरएवं निष्ठा में 

(ii) अभिवृत्ति की संरचना एवं प्रकायों में 

Differentiate between: (8)

(i) Objectivity and Dedication

(ii) Structure and Functions of Attitudes

खंड–  /Section- B

  1. भारतीय समाज में परम्परागत मूल्य क्या हैं? आधुनिक मूल्यों से इसकी क्या भिन्नता है? व्याख्या कीजिए।

What are the traditional values in Indian society? How does it differ from modern values? (12)

  1. निजी क्षेत्र की नैतिक विकृतियां क्या हैं? नैतिक जीवन के तीन विकल्पों का वर्णन कीजिए।

What are the ethical perversions of private sector? Describe the three options of ethical life. (12)

  1. वर्तमान प्रशासनिक संरचना में गुणात्मक सेवा प्रदान करने के लिए कार्य-संस्कृति में बदलाव आवश्यक है? तर्क सहित उत्तर दीजिए।

Is change in work- culture necessary for providing quality service delivery in present administrative structure? Answer with arguments. (12)

  1. क्या लोक-प्रशासन पर न्यायिक नियंत्रण आवश्यक है? लोक-प्रशासन पर संभावित न्यायिक नियंत्रण के विभिन्न  रूपों की व्याख्या कीजिए।

Is judicial control necessary in Public Administration? Explain the various possible forms of judicial control over the Public Administration. (12)

  1. राम मूर्ति एक सरकारी कर्मचारी हैं तथा अपने वृद्ध माता-पिता के साथ इंदौर में रहते हैं। एक दिन भ्रमण के दौरान 11 वर्ष के एक अनाथ बालक से उनकी मुलाकात हो जाती है। वह दयनीय स्थिति में एक बेघर बालक था, जिसकी देखभाल करने वाला कोई नहीं था। राम मूर्ति उस बालक को अपने घर ले आते हैं और प्रस्ताव रखते हैं की यदि वह राम मूर्ति के वृद्ध माता-पिता की देखभाल करेगा, तो वे उसकी आवश्यकतानुसार दैनिक मजदूरी देंगे तथा शिक्षा की भी व्यवस्था करेंगे। नैतिक दृष्टिकोण से राम मूर्ति के आचरण का मूल्यांकन कीजिए।

Ram Murti is a government servant and lives with his old aged parents in Indore. One day during a field-visit he meets a 11 year old orphan boy. He was in a miserable condition and homeless, with no one to take care of him. Ram Murti brings the boy to home and proposes him that if he takes care of his aged parents, he will give hime daily wage according to his needs and will arrange for his education too. Evaluate Ram Murti is conduct from ethical perspective. (12)

  1. मानव के नैतिक एवं राजनैतिक अभिवृत्ति से आप क्या समझते हैं? आप इन्हें वर्तमान राजनैतिक परिदृश्य में किस प्रकार उचित सिद्ध करेंगे?

What do you understand by moral and political attitude of human? How will you justify these in the present political scenario? (12)

  1. लिंग सम्बन्धी नकारात्मक अभिवृत्ति के मूल कारणों की विवेचना कीजिए। यह इतनी दृढ़ क्यों है?

Discuss the root causes of gender related negative attitude.  Why is it so rigid? (12)

  1. सामाजिक समस्या के प्रति व्यक्ति की मनोवृत्ति निर्माण को प्रभावित करने वाले कारकों की उपयुक्त उदाहरणों की साहयता से विवेचना कीजिए।

Discuss the factors which influence the formation of individual’s attitude towards social problems with the help of suitable examples. (12)

  1. “आज लोक सेवाओं में वस्तुनिष्ठता एवं निष्ठा समय की मांग है।” – कथन को सिद्ध कीजिए।

“Today objectivity and dedication is the need of the hour in civil services”. – Justify the statement. (12)

  1. राजीव एक प्रवासी श्रमिक था। एक दिन जब वह साइकिल से रोड पर जा रहा था, तो एक कार ने उसकी साइकिल को धक्का मार दिया। राजीव ने कार चालक को कार से बाहर खींचकर निकाला और गालियां देने लगा। कार चालक ने एक छुरा निकाला तथा छुरे से उस पर तीन-चार बार वार कर वहाँ से भाग गया। तमाशबीनों ने राजीव को अस्पताल पहुँचाने में देर करने तथा अत्यधिक रक्तस्राव के कारण उसकी मृत्यु हो गई। यदि राजीव के स्थान पर आप होते तो, कार चालक की  इस गैर-जिम्मेदार ड्राइविंग के प्रति आप क्या करते? इस प्रकार की सड़क दुर्घटनाओं तथा दुर्घटना पीड़ितों के प्रति लोग बहुधा उदासीन या निष्क्रिय अभिवृत्ति का प्रदर्शन करते हैं। इसके कारणों की विवेचना कीजिए तथा इसके निवारण हेतु उपायों को सुझाइए।

Rajeev was a migrant labour. One day when he was going on the road by his bicycle, a car pushed his bicycle. Rajeeb dragged the driver out of car and began abusing him. The car driver took out a knife and after stabbing him three-four times he fled away from the spot. Onlookers delayed rush Rajeev to hospital and due to excessive bleeding , he died. If you were in place of Rajeev, what would you have done for driver’s irresponsible driving? Often people show indifferent or passive attitude towards such road accidents and accident victims. Discuss its causes and suggest the remedies. (12)

 

Author

admin